महिलाएं अपने साथी से सेक्स संबंधी बातचीत के लिए खुद को कैसे तैयार करें

199
READ BY
How to Talk to Your Partner About Sex
How to Talk to Your Partner About Sex
Photo Credit: Bigstockphoto
Read this article in English
यह लेख हिन्दी में पढ़ें।

विषय विशेषज्ञों का कहना है कि आपके यौन संबंध नीरस हो जाएंगे और आप बिस्तर पर एक अच्छे प्रेमी कभी बन ही नहीं पाएंगे, अगर आप समय-समय पर अपनी सेक्स करने की तकनीक को बदलते नहीं है अर्थात कुछ नया नहीं सीखते और उन्ही पुराने तरीको को दोहराते रहते हैं।

हम सभी, आदमी हो या औरत,  सेक्स के दौरान कुछ नया करना चाहते हैं अर्थात सेक्स का पूरा आनंद लेना चाहते हैं। परन्तु, जब बात कुछ नया करने की आती है, तो हम सभी शर्माने या कतराने लगते हैं। हमें लगता है कि हम आपने साथी के साथ इस विषय पर बातचीत शुरू कैसे करें? सबसे बड़ा डर यही होता है कि कहीं वह बुरा न मान जाए या कहें हमारे बारे में कोई कोई गलत धारणा न बना ले। लेकिन, जैसे मैंने ऊपर कहा कि अगर आप कुछ नया नहीं करेंगे, तो आप एवं आपका साथी बोर हो जाएंगे। मर्दों के लिए आसान है, लेकिन सवाल तब उठता है जब औरतों को इस विषय में अपने साथी से बात करनी जरूरी हो जाती है। इस लेख में, हम आपको बताएंगे कि महिलाएं सेक्स संबंधी बातचीत के लिए खुद को कैसे तैयार करें।

जरूर पढ़े – वैवाहिक जीवन को खुशहाल बनाए रखने में सेक्स क्या भूमिका निभाता है?

1इस विषय सम्बन्धी अपनी कमजोरियों को पहचानें

एक महिला होने के नाते, आपको सबसे पहला यह समझना जरूरी है कि अपने साथी से सेक्स विषयों पर बात करना कोई पाप नहीं है। सेक्स के दौरान आपको किस चीज में सबसे ज्यादा आनंद मिलता है, अगर आप यह जान जाएंगे और अपने साथी को समझा पाएंगे, तो जाहिर है आप दोनों ही सेक्स का ज्यादा मजा ले पाएंगे।

लेकिन अपने साथी को इन क्षेत्रों के बारे में तभी समझा पाएंगी, जब आप खुद इन क्षेत्रों के बारे में जानती होंगी। इसलिए, अपने आप को एकांत दें और इन क्षेत्रों के बारे जितना हो सके जानने की कोशिश करें

खुद जान लें और फिर अपने साथी का मार्गदर्शन करें।

2ज्यादा मत सोचें, बस करना शुरू करें

अगर आप सेक्स के लिए तैयार हैं, तो दिमाग पर ज्यादा जोर मत दें। जितना आप इस विषय के बारे में सोचेंगी, उतना ही यह विषय आपके लिए तनावग्रस्त हो जाएगा। जिस साथी से आप इन संबंधों को बनाना चाहती हैं, उससे खुल के अपनी भावनाओं को व्यक्त करें। यह याद रखना महत्वपूर्ण है कि बिस्तर में अपनी शर्म को दूर करने के लिए, आपका रिलैक्स होना बहुत जरूरी है। आप शांत तभी हो सकती हैं, जब आपके मन में कोई प्रश्न, शर्म या भय न हो। इस विषय में न सोचे कि आपका प्रेमी आपके बारे में क्या सोचता है। अपने प्यार का इजहार करें और खुद को उस समय के लिए मानसिक रूप से तैयार करें।

जरूर पढ़े – महिला साथी को बिस्तर में कैसे खुश किया जाता है

3कामुक खिलौनों के बारे में उससे बात करें

सेक्स के दौरान, कामुक खिलौनों पर बात करना थोड़ा अटपटा लगता है। लेकिन, इनके बारे में बात करने से, आप दोनों के बीच की शर्म खत्म हो जाएगी और आप खुलकर सेक्स का आनंद ले पाएंगे। जाहिर है कि अगर आप एक शर्मीली महिला है, तो आप अपने साथी के सामने खिलौना इस्तेमाल करने में सहज महसूस नहीं करेंगी। इसलिए, ऐसी कोई भी चीज खरीदने से पहले अगर आप खुलकर बात कर लेंगी, तो आपको न तो इसे खरीदने में कोई परेशानी होगी और न ही साथी के सामने इस्तेमाल करने में।

4आप जैसे भी हैं आपका साथी आपको प्यार करता है

अपने शरीर के बारे में ज्यादा मत सोचें। आपका प्रेमी आपके साथ हमबिस्तर है क्योंकि उसे आपके शरीर की बनावट से कोई आपत्ति नहीं है, फिर चाहे आप बहुत वजनदार है, मोटी है, या दिखने में ज्यादा आकर्षक नहीं है। अधिकांश अध्ययनों से पता चला है कि सेक्स के वक़्त पुरुष इन बातों पर ज्यादा ध्यान नहीं देते। परन्तु, महिलाएं खुद ही इनके बारे सोच-सोच कर अपने सेक्स संबंधों को नीरस कर लेती हैं। माहौल को रोमांटिक बनाने के लिए, जो मुमकिन हो, उसे जरूर करें जैसे कि धीमी रौशनी में सेक्स करना इत्यादि।

जरूर पढ़े – कामुकता या कामेच्छा बढ़ाने के लिए खाएं ये 10 चीजें

5एक दर्पण के सामने खुद से प्यार करें

यह एक साहसी सलाह है, और यदि आप शर्मीली हैं तो इसे अपनाने में आपको कुछ साहस दिखाना पड़ेगा।

पर यह बहुत ही कारगर उपाय है क्योंकि इससे आप दर्पण में अपने शरीर को देख पाएंगे और खुद को रोमांच से भरा महसूस करेंगी। इससे आपकी कामुकता में बढ़ावा होगा और अपने साथी से सेक्स करने को लेकर, जो शर्म आपके अंदर हैं, वो भी काफी हद तक ख़त्म हो जाएगी।

क्या इस विषय में आपका कोई प्रश्न हैं ? हमारे विशेषज्ञ से ज़रूर पूंछे।

इन उपायों का उपयोग करके आप काफी हद तक अपनी झिझक को समाप्त कर सकती हैं। हमेशा याद रखें कि, “कई मसले पूछने और बात करने से ही हल हो जाते हैं।”

इसलिए, समझौता करने से बेहतर है, बात करके समस्या का हल ढूंढें।

Loading...