सफल करियर योजना के लिए 7 ऐसे सुझाव, जो कभी फेल नहीं होते

154
READ BY
7 Tips for Successful Career Planning
7 Tips for Successful Career Planning
Photo Credit: Bigstockphoto
Read this article in English
यह लेख हिन्दी में पढ़ें।
Kumar Sunil

Kumar Sunil

Dreamer & Enthusiast

Creative. One word says it all for Sunil. A engineer, an enthusiastic and conscientious Information Technology consultant by profession, Sunil shares a special interest with entrepreneurship and lifestyle.

एक सफल कैरियर का अर्थ है अविश्वसनीय लाभ और तरक्की के ढेरों अवसर। अच्छे करियर का होना अच्छी सामाजिक और आर्थिक स्थिति की गारंटी होता है। करियर में सफलता, न केवल आपको सुरक्षा का अहसास करवाती है, बल्कि आपको उपलब्धि की भावना भी देती है। साथ ही, इस बात में भी कोई दो राय नहीं है कि करियर में सफलता और शौहरत का सपना लगभग हर इंसान देखता है। इसलिए, इस लेख के माध्यम से, मैं आपको बताऊंगा, सफल करियर योजना के लिए 7 ऐसे सुझाव, जो कभी फेल नहीं होते।

अपने लक्ष्यों की पहचान करें

किसी ने सच ही कहा है कि हमला करने से पहले, अपने विरोधी के बारे में अच्छे से जान लेना बहुत जरूरी होता है। हैरान करने वाली सच्चाई यह है कि हम में से बहुत लोग वह काम करते हैं, जो उन्हें करना पसंद ही नहीं होता। ऐसे में, अधूरे मन से किया गया काम कभी भी कामयाबी नहीं देता।

जरूर पढ़ें – 5 ऐसे कारक जो काम पर संतुष्टि को प्रभावित करते हैं

इसलिए, करियर में सफलता पाने के लिए, वह काम करें, जो आपको करना पसंद हो। साथ ही, चुने हुए करियर से जुड़ी सभी चुनौतियों को बारीकी से समझ लें क्योंकि लक्ष्य को पाने के लिए, उसे बारीकी से समझना बहुत जरूरी है।

खुद की ब्रांडिंग करें

किसी ने सच ही कहा है कि जो दिखता है, वह बिकता है। आजकल के समय में, पर्सनल ब्रांडिंग बहुत जरूरी है। पर्सनल ब्रांडिंग का अर्थ है, मार्किट में खुद की पहचान बनाना।

वास्तव में, जितना लोग आपके बारे में ज्यादा जानेंगे, उतने ही आपके प्रशंसक बढ़ेंगे और उतना ही आपके लिए मार्किट में बने रहना आसान होगा।

उदाहरण के लिए, आपने अक्सर देखा होगा कि चाहे फ़िल्मी सितारे हो या राजनेता, हमेशा सुर्ख़ियों में बने रहने के लिए पर्सनल ब्रांडिंग पर निवेश करते रहते हैं।

पर्सनल ब्रांडिंग के लिए आप समाचारों, विज्ञापनों, जलसों या ब्लॉग इत्यादि का सहारा ले सकते हैं। अन्य विकल्पों की तुलना में ब्लॉग बहुत ही आसान, सस्ता और कारगर उपाय है। आजकल के समय में, ऑनलाइन उपस्थिति होना बहुत महत्वपूर्ण है।

जरूर पढ़ें – शानदार करियर पाने के लिए करें यह 10 चीज़े

अपनी कुशलताओं से अवगत रहें

करियर में सफलता के लिए, आपको खुद में उन सभी कुशलताओं को खोजना होगा, जो उस करियर के लिए जरूरी है। आसान शब्दों में कहा जाए, तो आपको अपनी कुशलताओं के हिसाब से ही करियर को चुनना चाहिए। कुशलताओं के साथ-साथ आपको अपनी कमजोरियों पर भी नजर रखनी चाहिए।

अगर आपको 9 से 5 की नौकरी में संतुष्टि और खुशी नहीं मिलती, तो आपको कुछ ऐसा ढूंढना चाहिए, जिसे करने में आपको खुशी हो।

खुद के स्टैंडर्ड को उठाएं

खुद के स्टैंडर्ड को जितना हो सके, ऊँचा उठाएं। उन्नति या एक ऊंचाई पर पहुंचने के लिए, लक्ष्यों का ऊँचा होना बहुत जरूरी है।

किसी ने ठीक ही कहा है कि अगर निशाना ही लगाना है, तो चाँद पर लगाओ। अगर चूक भी गए, तो तारों तक तो पहुंच ही जाओगे।

ऊँचे स्टैंर्डड वाले लोग की हर बात ऊँची होती है और उनकी सोच भी औसत लोगों से ऊँची होती है। इसलिए, कुछ महीनों के बाद, अपने स्टैंडर्डों को बदलते रहना चाहिए। खुद में सुधार लाते रहें क्योंकि हमेशा विजेता रहने के लिए, समय के साथ चलना बहुत जरूरी होता है।

विश्वास जीतें

चाहे आप नौकरी करते हैं या व्यापर, विश्वास जितने का कोई मौका न गवाएं। हमेशा अपनी समय सीमाओं और काम को लेकर किए गए वादों का सम्मान करें। करियर में सफलता के लिए आपको अपने साथ काम करने वाले लोगों का विश्वास जीतना बहुत जरूरी होता है। आपको उन्हें यकीन दिलवाना पड़ता है कि वे आपके द्वारा किए गए किसी भी काम पर भरोसा कर सकते हैं। करियर में सफलता के लिए आपको खुद को जिम्मेदार साबित करना होता है।

करियर के बारे में सलाह लेने से न डरें

जाहिर सी बात है कि किसी एक इंसान को सभी क्षेत्रों के बारे में जानकारी नहीं होती। ऐसी स्थिति में, करियर चुनने में दुविधा होना स्वाभाविक है। अगर आप भी दुविधा में हैं, तो किसी विशेषज्ञ की मदद लेने में झिझक महसूस न करें

उन लोगों की पहचान करें, जो आपके द्वारा चुने गए करियर में ज्यादा अनुभवी हैं और जिनसे आपको जरूरी एवं सही जानकारी मिल सकती है। ऐसे लोगों के नेटवर्क में रहने से, आपको अपने करियर से जुड़ी हर नई जानकारी और संभावित मदद मिलती रहेगी। किसी करियर विशेषज्ञ से बात करें क्योंकि किसी भी दुविधा में करियर विशेषज्ञ आपका सही मार्गदर्शन कर सकता है।

जरूर पढ़ें – कामयाब और खुशहाल ज़िन्दगी जीने का तरीका

अपनी सफलता का आकलन करें

सफलता का आकलन करने से पहले जरूरी होता है सफलता को प्रभाषित करना। आपके लिए सफलता क्या है, महीने के अंत में की गई कमाई, ऑफिस में दिया गया पद, बॉस द्वारा दिया गया पॉजिटिव फीडबैक या किसी ग्राहक की मुश्किल को हल करना?

हर व्यक्ति का सफलता को मापने का पैमाना अलग है और बढ़िया बात यह है कि हम सभी इस पैमाने को खुद ही तय करते हैं।

इसलिए सबसे पहले इस पैमाने को तय कर लेना चाहिए। एक बार पैमाना तय करने के बाद, आपको अपनी पूरी ऊर्जा इसे हासिल करने में लगा देनी चाहिए।

क्या इस विषय में आपका कोई प्रश्न हैं ? हमारे विशेषज्ञ से ज़रूर पूंछे।

अंत में, खुद को एक व्यक्तिगत ब्रांड बनाकर उभारने, अपनी ताकत को जानने, और स्थितिओं के प्रति सकारात्मक दृष्टिकोण स्थापित करने के लिए, सबसे पहले आपको खुद से ईमानदार होना पड़ेगा। कामयाबी के लिए, आप जो भी कदम उठाएं, आपकी ओर से उसमें कोई कसर नहीं रहनी चाहिए। ऐसा तभी होगा, जब आप सब कुछ दिल से करेंगे।

Loading...