अनचाहे गर्भ को टालने के तरीकों से जुड़ी कुछ ग़लतफ़हमिओं के बारे में

148
READ BY
Photo Credit: pixabay
Read this article in English
यह लेख हिन्दी में पढ़ें।

अनचाहे गर्भ के ठहरने से होने वाली परेशानियों से बचने के लिए महिलाएं अक्सर बहुत से तरीकों का इस्तेमाल करती हैं जैसे कि स्तनपान करवाना, गर्भनिरोधक गोलियां लेना इत्यादि। लेकिन, उनमें से बहुत सी महिलाएं यह नहीं जानती कि उनके द्वारा अनचाहे गर्भ को रोकने के लिए इस्तेमाल किए गए इन तरीकों के बाद भी वह गर्भवती हो सकती हैं। इस लेख के माध्यम से, हम अनचाहे गर्भ को टालने से जुड़ी कुछ ग़लतफ़हमिओं और गलितयों के बारे में बात करेंगे ।

जरूर पढ़े – उम्मीदे रखना बंद करे – कैसे दुसरो से कम उम्मीदे रखे

असुरक्षित तरीके से किए गए यौन संबंध के बाद भी गर्भवती न होने को लेकर लोगों में बहुत सी गलतफहमियां होती हैं। कुछ लोगों का मानना है कि अगर वीर्य को योनि से बाहर गिराया जाया, तो इससे एक अवांछित गर्भधारण से मुक्ति पाई जा सकती है। कुछ लोगों का मानना है कि यौन सम्बन्ध के बाद नहाने या पेशाब करने से अवांछित गर्भधारण से छुटकारा पाया जा सकता है। कुछ लोगों को यह भी गलतफहमी होती है कि ओवुलेशन पीरियड से पहले और बाद में बनाए जाने वाले असुरक्षित यौन संबंधों में भी अनचाहे गर्भ जैसी समस्या नहीं होती। पर विशेषज्ञों के मुताबिक यह सब भ्रांतियां हैं और इन सब से अनचाहे गर्भ को ठहरने से नहीं रोका जा सकता। इन सब ग़लतफहमियों के अलावा, अनचाहे गर्भ के ठहरने से होने वाली परेशानियों से बचने के लिए कुछ और गलतियां भी की जाती हैं। आइए हम आपको उन गलतियों के बारे में बताते हैं।

1आप बीच में ब्रेक डाल देते हैं

यह एक आमतौर पर की जाने वाली गलती है। जब आप गर्भनिरोधक ले रहें होते हैं, तो कई बार आपके सगे-सम्बन्धी आपको बीच में ब्रेक डालने को कहते हैं।

यही आपकी सबसे बढ़ी गलती होती है। असल में, अगर आप बीच में ब्रेक डालना चाहते हैं, तो ऐसा करने से पहले आपको अपने डॉक्टर से इस विषय में बात कर लेनी चाहिए। आपको यह समझ लेना चाहिए कि गर्भनिरोधक को बंद करने के 48 घंटे बाद, आपका शरीर गर्भनिरोधक लेने से पहले की अवस्था में चला जाता है।

2आप गर्भनिरोधक लगातार नहीं लेते

मुझे उम्मीद है कि आपको यह पहले से ही बताया जाता है कि आपको हर दिन एक गोली लेनी होती है। आपका ऐसा करना बहुत ज़रूरी होता है। बहुत सी महिलाओं को यह भी पता नहीं होता कि किसी कारणवश गर्भनिरोधक लेने में अगर चूक हो गई है, तो उनके पास और कौन से विकल्प बचते हैं। इसी वजह से उनकों अवांछनीय गर्भधारण से गुज़रना पड़ता है।

3आप स्तनपान को अनचाहे गर्भ को टालने की एक विधि के रूप में उपयोग करते हैं

भविष्य में मां बनने वाली महिलाओं के बीच यह एक आम धारणा है, जो कि कुछ हद तक सही और तकनीकी रूप से संभव भी है। लेकिन इस तकनीक से जुड़ी हुई कुछ और भी चीज़े हैं, जिनके बारे में माताओं को पूरी तरह से नहीं पता होता। अगर आप स्तनपान को अनचाहे गर्भ को टालने की विधि के रूप में इस्तेमाल करना चाहते हैं, तो आपको इस बात का खास ध्यान रखना है कि आपको सिर्फ स्तनपान ही करवाना है अर्थात किसी प्रकार के पंप का उपयोग नहीं करना है।

जरूर पढ़े – अस्वीकृति से निपटना और ज़िन्दगी में आगे बढ़ना

अब क्योंकि आपकी माहवारी अभी ठीक नहीं हुई है, दूसरा आप स्तनपान करवा रहे हैं, तो यह गर्भनिरोधक पद्धति कम-से-कम 6 महीने तक काम कर सकती है। लेकिन, फिर भी जिन महिलाओं पर यह पद्धति लागू होती है, उनकी संख्या बहुत कम है। जैसा कि आप जानती ही हैं कि शिशु के जन्म के बाद आप बहुत जल्दी गर्भवती हो सकती हैं, इसलिए आपको इस पद्धति पर ज़्यादा भरोसा न करके, सुरक्षा के अन्य तरीकों का ध्यान रखना चाहिए।

4सही गर्भनिरोधक का इस्तेमाल नहीं करते

कई बार आप जिस गर्भनिरोधक का इस्तेमाल करते हैं, वह आपके शरीर के अनुकूल नहीं होता और आपकी सभी कोशिशों के बाद भी आपको अनचाहे गर्भ का सामना करना पड़ता है। इसलिए पूरी तरह से किसी भी गर्भनिरोधक तरीके पर विश्वास करने से पहले आपको अपने डॉक्टर से परामर्श जरूर कर लेना चाहिए और इस बात की जाँच आवश्य करवा लेनी चाहिए कि क्या आपके द्वारा चुना हुआ तरीका आपके लिए सही है भी या नहीं?

अंत में हम यही कहना चाहेंगे कि असुरक्षित तरीके से यौन सम्बन्ध बनाने से बेहतर है कि पहले ही सावधानी बरती जाए। इससे न तो केवल संक्रमणों से बचाव रहता है, बल्कि अनचाहे गर्भ जैसी परेशानियों से भी नहीं गुज़रना पड़ता।