अच्छे कर्मचारी कंपनी को क्यों छोड़ जाते हैं

1816
READ BY
Photo Credit: Bigstockphoto
Read this article in English
यह लेख हिन्दी में पढ़ें।
Kumar Sunil

Kumar Sunil

Dreamer & Enthusiast

Creative. One word says it all for Sunil. A engineer, an enthusiastic and conscientious Information Technology consultant by profession, Sunil shares a special interest with entrepreneurship and lifestyle.

मैं इस कंपनी से तंग आ चूका हूँ। मैं सिर्फ इस बात की प्रतीक्षा कर रहा हूँ कि मेरे दो साल पूरे हो जाएं, फिर मैं इस कंपनी को छोड़ दूंगा। मैं थक चूका हूँ और मुझे एक लम्बी ब्रेक चाहिए।

अगर मैं सही हूँ, तो शायद कर्मचारियों के लिए चर्चा का पसंदीदा विषय है। कोई भी संतुष्ट नहीं है, चाहे वह मालिक हो या कर्मचारी। लेकिन नियोक्ताओं को यह स्वीकार करना पड़ेगा कि अच्छे कर्मचारियों को खोजना जितना कठिन है, उससे भी कठिन है, उनको बनाए रखना। बहुत से एम्प्लायर यह सोचते हैं कि अगर कोई बेहतरीन कर्मचारी कंपनी को छोड़ कर जाता है, तो इसके पीछे उनकी कंपनी नहीं, बल्कि कर्मचारी खुद जिम्मेवार होता है। लेकिन, वह यह जानने की कोशिश कभी नहीं करते कि गलती उनकी भी होती है। इस लेख के माध्यम से मैं आपको बताऊंगा कि अच्छे कर्मचारी कंपनी को क्यों छोड़ जाते हैं।

ज़रूर पढ़े – शानदार करियर पाने के लिए करें यह 10 चीज़े

प्रिय नियोक्ता, पिछले कई सालों में सैकड़ों राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय नियोक्ताओं के साथ काम करने के बाद, मुझे उनकी कामयाबी के पीछे का एक रहस्य पता चला है। उनमें से बहुत से नियोक्ताओं ने मुझे बताया कि उनकी कंपनी की सफलता का राज कर्मचारी प्रतिधारण अर्थात एम्प्लोयी रिटेंशन रेट है।

यह सच है कि कंपनी की सफलता के लिए आपको नए और निपुण लोगों के साथ काम करना ही पड़ता है और ऐसे में किसी पुराने कर्मचारी को, जिसने लम्बे समय से अपने कौशलों में कोई बदलाव नहीं दिखाया हो, रखकर आपका कोई लाभ नहीं होता। लेकिन, वहीं दूसरी ओर जब भी आप किसी पुराने कर्मचारी को खोते हैं और नए को रखते हैं, तो आपको उसे अपने पुराने कर्मचारी जितना दक्ष बनाने में कई प्रकार की मुश्किलों और कीमतों का सामना करना पड़ता है।

हर बार जब आप एक ही परियोजना के लिए बोर्ड पर एक नया व्यक्ति जोड़ते हैं, तो आपको प्रशिक्षण की अपरिवर्तनीय लागत सहन करनी होगी और आपको उसके प्रदर्शन की प्रतीक्षा करनी होगी। इसलिए, मैं यह कहना चाहूंगा कि अगर नियोक्ता होने के नाते, आप अपने बेहतरीन कर्मचारियों को अच्छा कामकाजी माहौल और प्रेणना देने में चूक जाते हैं, तो आप अपने सर्वश्रेष्ठ कर्मचारियों को खो बैठते हैं।

ज़रूर पढ़े – कर्मचारियों को कैसे प्रेरित करें

आइए, हम जानते हैं कि ऐसी कौन सी गलतियां हैं, जिनसे आपको बचना चाहिए।

1काम का बोझ किसी एक पर लादना

वास्तव में, हर नियोक्ता चाहता है कि उसका सर्वश्रेष्ठ कर्मचारी ही उसके सभी काम करे क्योंकि उनको लगता है कि उस कर्मचारी के पास हर समस्या का समाधान होता है। लेकिन, क्या आप जानते हैं कि यह आपके सबसे बढ़िया कर्मचारी के हित में नहीं होता। ऐसा करके आप उन पर जरूरत से ज्यादा भोझ लाद देते हैं।

अपने पसंदीदा (लेकिन बेकार) के कर्मचारियों को आराम से रखने और उन कर्मचारियों को अधिभारित करना, जो पहले से ही प्रदर्शन कर रहे हैं, एक गलत नीति है। इसमें कोई संदेह नहीं है कि प्रतिभाशाली कर्मचारियों को चुनौतियों से प्यार है और उन्हें आप जितना भी काम देंगे, वह उसे स्वीकार कर लेते हैं, लेकिन जब उन्हें लगता है कि आप उनका वह बहुमूल्य समय चुरा रहें हैं, जो वह अपने परिवार के साथ गुजारना चाहते हैं, तो वे निश्चित रूप से आपको छोड़ने का मन बना लेंगे।

ज़रूर पढ़े –पैसिव इनकम के 5 स्रोत – कम मेहनत और ज़्यादा आय

इसके साथ ही, रचनात्मकता और गुणवत्ता के हिसाब से भी अपने बेहतरीन कर्मचारी पर काम का ज्यादा बोझ डालना ठीक नहीं होता। नियोक्ताओं को समझना होगा कि एक रचनात्मक मन अपनी रचनात्मकता के साथ किसी भी समझौते को स्वीकार नहीं करता।

2कोई पुरस्कार नहीं

प्रत्येक व्यक्ति को प्रशंसा पसंद है, खासकर जब बेहतर प्रदर्शन के लिए पुरस्कार की बात आती है। यदि आप उन पुरस्कारों को देने में कंजूसी करेंगे, जिनकी उन्हें उम्मीद है या जिनके वह हक़दार हैं, तो आप निश्चित रूप से उन्हें खो देंगे।

3अपनापन दिखाओ, सिर्फ बातों में नहीं बल्कि वास्तविकता में भी

क्या आप जानते हैं कि कई लोग अपने नियोक्ता के साथ असवेंदन रिश्तों के कारण भी नौकरी छोड़ देते हैं? प्रबंधक के रूप में आपको पेशेवर और व्यक्तिगत अर्थात पर्सनल और प्रोफेशनल संबंधों के संतुलन के बारे में जानने की आवश्यकता होती है। अगर आप उनकी मान्यताओं या प्राथमिकताओं का अनादर करने लगेंगे, तो वह आपकी कंपनी में ज्यादा देर टिकेंगे नहीं। आपको मजबूत नीतियों की आवश्यकता है और आपको यह सुनिश्चित करना होगा कि वे सभी पर एक जैसी ही लागू हों क्योंकि दोपहर के भोजन पर सभी कर्मचारी इकट्ठे होने वाले हैं।

ज़रूर पढ़े – इंटरव्यू पर कौन से रंग के कपड़े पहन कर जाना चाहिए

4अपने वादे का मूल्य

जब नियोक्ता कुछ वादा करते हैं, लेकिन उसे पूरा नहीं करते, तो अपने बेहतरीन कर्मचारियों को सिर्फ ठेस ही नहीं पहुंचाते, बल्कि उन्हें मजबूर करते हैं कि वह आपको छोड़ दें। एक नियोक्ता के रूप में आपको समझना होगा कि आपको अपने वादों का सम्मान करने की ज़रूरत है, अन्यथा, अच्छे कर्मचारी आपको आपकी कल्पना से भी पहले आपको अपना त्यागपत्र दे देंगे। कोई भी ऐसी जगह पर काम करना पसंद नहीं करना चाहता जहां सब कुछ “नकली बयान” साबित होता है।

क्या इस विषय में आपका कोई प्रश्न हैं ? हमारे विशेषज्ञ से ज़रूर पूंछे।

इसके अलावा, अपने कर्मचारियों को उनके जुनून का पालन करने की अनुमति दें। अनावश्यक प्रतिबंध न डालें क्योंकि इस वजह से वह उनकी उत्पादकता और काम को लेकर संतुष्टि सीमित हो जाएगी।

कोई भी ऐसी जगह पर काम नहीं करना चाहता जो एक ऐसे स्कूल जैसा दिखता हो, जहाँ अनुशासन सिर्फ विद्यार्थियों पर थोपा जाता है, प्रबंधन पर नहीं।

Loading...